सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पोस्ट

कंप्यूटर विजन सिंड्रोम। computer vision syndrome in hindi ।

Computer vision syndrome in hindi  - आज की फास्ट लाइफ स्टाइल में कंप्यूटर बहुत ही महत्वपूर्ण भाग बन गया है। 21वीं सदी में तो कंप्यूटर के बिना कोई काम होता ही नहीं है।

जो लोग ऑफिस में काम करते हो। जिनका आईटी का job  हो,  उन लोगों को दिनभर कंप्यूटर स्क्रीन के आगे ही बैठना पड़ता है।  कुछ लोग ज्यादा टीवी देखते हैं। कुछ बच्चे या फिर लड़के, लड़कियां बहुत देर रात तक मोबाइल पर टाइम बिताते हैं। मोबाइल पर गेम खेलते हैं, सोशल मीडिया पर टाइम बिताते हैं, वीडियो देखते हैं।

इन सब वजहों से 21वीं सदी में एक नई बीमारी ने जन्म लिया है। उस बीमारी का नाम है कंप्यूटर विजन सिंड्रोम। इसे डिजिटल आई स्ट्रेन भी कहते हैं। Causes of computer vision syndrome  अब हम कंप्यूटर विजन सिंड्रोम के कारण देखेंगे। ऊपर जो मैंने बताए हैं कंप्यूटर वर्क, टीवी ज्यादा देखना, मोबाइल ज्यादा देखना यह इसके मेन कारण  है।

ज्यादा देर तक जब हम कंप्यूटर और मोबाइल स्क्रीन की तरफ देखते रहेंगे, तो क्या होता है कि हम बहुत ही कम पलके झपकाते है। पलकें झपकाने से आंख नम होती है। और आँख  सुखी नहीं पड़ती।  लेकिन ज्यादा देर तक कंप्यूटर स्क्रीन पर द…

Shatavari । शतावर चूर्ण ।

शतावर चूर्ण  - इससे पहले मैंने अश्वगंधा के ऊपर एक वीडियो बनाई थी। तब कुछ लोगों ने मुझे कमेंट किया था कि शतावरी के ऊपर आप आर्टिकल लिखो। जैसे पुरुषों की सभी समस्याओं का समाधान अश्वगंधा है। वैसे ही स्त्रियों की सभी समस्याओं का समाधान शतावरी है।

शतावर एक बहूत ही  उपयोगी  वनस्पति है। जैसे अश्वगंधा पुरुषों में पुरुषत्व बढ़ाने का काम करती है, वैसे ही शतावरी स्त्रियों में स्त्रीत्व बढ़ाने का काम करती है। पुरुषों में भी इसके सेवन से कई फायदे पाए जाते हैं। तो अब हम इसके शतावरी के अद्भुत फायदे देखेंगे।  शतावरी स्त्रियों के लिए अमृत समान है। किसी भी उम्र की स्त्री शतावरी का सेवन कर, उस उम्र में स्त्री को होने वाले समस्याओं से छुटकारा पा सकती है। Piliya ki puri jaankari

1. शतावर से सेक्स हार्मोन का लेवल संतुलित रहता है। सेक्स हार्मोन मत मतलब एस्ट्रोजन एंड प्रोगैस्टरॉन estrogens and progesteron। इन हारमोंस की कमी की वजह से जीी नस्त्रियों में संतति सुख प्राप्त नहीं हो सकता, जिनको बच्चे नहीं हो रहे हैं उनको शतावरी का नियमित सेवन लाभ कारक है।
2. जिनको पीरियड की समस्या हो, पीरियड के वक्त ज्यादा ब्लीडिं…

कोविड-19 टीका

दुनिया के बहुत सारे देश वैक्सिंग खोज निकालने में जुटे हुए हैं। इनमें से चार वैक्सीन बहुत ही महत्वपूर्ण है।  पहला अमेरिका के मॉडर्ना vaccine,  दूसरे रशिया  कि Gamalia यूनिवर्सिटी की वैक्सीन, जो मैंने पहले बताया। तीसरी है ऑक्सफर्ड जो ब्रिटेन की कंपनी है, जिसका उत्पादन भारत में सिरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया कर रही है। चौथी है भारत बायोटेक की कोएक्सिंग covaccine ।
Read this post in ENGLISH 

Covid-19 vaccine 
सबसे पहले बात करेंगे रशिया की वैक्सीन के बारे में। उन्होंने यह  वैक्सीन उनके देश के फ्रंट  लाइन कोविड-19 योद्धाओं को ही लिए देना शुरू कर दिया है।  और उन्होने डिक्लेअर कर दिया है कि अक्टूबर से हर एक नागरिक को रशिया के दी जाएगी। यह टीका  भारत में बनाने के लिए डिस्कशन अभी जारी है।

लेकिन यह वैक्सीन दिसंबर से पहले भारतीयों में दिए जाने की आशायें  बहुत ही कम है। क्योंकि इसका मास प्रोडक्शन अभी से शुरू हुआ है। लेकिन वो पहले रशिया में ही दी जाएगी। इसका उत्पादन भारत में भी शुरू हुआ तब भी उसका टेस्टिंग नहीं किया गया है।  हम भारतीयों के ऊपर पहले फेस 1 फेस टू फेस 3 का टेस्टिंग होगा। उसके नतीजे अगर अच…

हैंगओवर ट्रीटमेंट। नशा उतारने की दवा।

हैंगओवर ट्रीटमेंट - बहुत सारे लोगों को नशा करने की आदत होती है। नशे में सबसे ज्यादा शराब का इस्तेमाल किया जाता है। कोई देसी पीता है, तो कोई विदेशी। जो लोग ज्यादा पीती है, पूरे टूल हो जाते हैं उनको दूसरे दिन एक समस्या का सामना करना पड़ता है। उस समस्या का नाम है hangover। हॅगओव्हर  का मतलब है  नशा। सारे दिन शराब का हैंगओवर रहता है।  नशा उतरता ही नहीं।
Read this post in English
Hangover symptoms        हैंगओवर का लक्षण क्या-क्या है ? इसमें सिर बहुत ही ज्यादा दुखता है। मानो सिर फट ही जाएगा। ऐसा दुखता है पूरा शरीर पेन करता है। हाइपर एसिडिटी होती है। उल्टी आती है। कोई भी काम करने में मन नहीं लगता। यह सब लक्षण दूसरे दिन शाम तक और कुछ-कुछ केसेस में तीसरे दिन भी रह सकते हैं।
Tips to prevent pregnancy

     जो लोग काम पर जाते हैं, ऑफिस पर जाते हैं उनको  इसकी ज्यादा तकलीफ होती है। Hangover की वजह से वह ठीक से काम नहीं कर पाते। फिर काम में मन नहीं लगता। हैंगओवर दूसरे दिन सुबह ही उतारना सबसे महत्वपूर्ण है। अब हम हैंगओवर उतारने की, जड़ से उतारने के लिए ट्रीटमेंट और घरेलू उपाय देखेंगे। HANGOVER TR…

Melasma in hindi

Melasma in hindi - बहुत सारे लोगों के चेहरे पर झाइयां आ जाती है।  इसे अंग्रेजी में मेलास्मा भी कहते हैं । चेहरे पर काले दाग धब्बे आ जाते हैं।  झाइयों के ऊपर, काले दाग धब्बों के ऊपर आपको बहुत सारे आर्टिकल्स ब्लॉग्स  मिल जाएंगे।  किसी ने 3 दिन में दाग धब्बे कम करने को कहा है। किसी ने इसके ऊपर घरेलू उपाय बताएं है।
Read this post in English

     लेकिन मैं आपको आज झाइयां हटाने के लिए, चेहरे के काले दाग धब्बे हटाने के लिए, एक ऐसी क्रीम बताऊंगा जिससे आपकी दाग धब्बे पूरी तरह से और हमेशा के लिए ठीक हो जाएंगे। यह पूरी तरह से साइंटिफिक जानकारी होगी। और इसके साथ साथ कोई टिप्स भी बताऊंगा जिससे यह फिर से वापस ना आए।

झाइयों किन में आती है। melasma।          झाइयां यह बीमारी ज्यादातर औरतों में पाई जाती है। पुरुषों में इसका प्रमाण बहुत ही कम है। इसमें क्या होता है कि पूरे चेहरे पर काले दाग धब्बे आ जाते हैं। पूरे चेहरे पर खासकर के दाग धब्बे ज्यादातर गाल, नाक , माथा, lips के आजू-बाजू के हिस्से में ज्यादा आ जाते हैं।
Read more- hangover treatment in hindi  झाइयों का कारण। causes of melasma ।            और…

Coronavirus prevention in hindi

Coronavirus prevention in hindi  - कोरोनावायरस ने तो दिमाग खराब कर रखा है। इधर जाओ, उधर जाओ,  कोरोनावायरस, न्यूज़ लगाओ तो भी सिर्फ और सिर्फ कोरोनावायरस है। पूरा विश्व अब इंतजार कर रहा है कि कोरोनावायरस कब जाएगा और हम कब चैन की सांस ले सकेंगे। लेकिन कोरोनावायरस है कि वह जाता ही नहीं है।

Read this post in English

        WHO डब्ल्यू डब्ल्यू एच ओ ने स्पष्ट कर दिया है कि शायद कोरोनावायरस अब कभी भी नहीं जाएगा। जैसे स्वाइन फ्लू रहेगा वैसे ही कोरोनावायरस कोविड-19 रह सकता है। और साथ ही दूसरे शास्त्रज्ञोंकी माने तो अगर कोरोनावायरस गया भी तो कम से कम 6 महीने से 1 साल तो वह रहेगा ही रहेगा। उसके  बाद ही उसके कम होने के चांसेस है।

       अभी lockdown धीरे  धीरे उठ रहा है। दुकानें शुरू हो गई है, कंपनी शुरू हो गए हैं, लोग अपने अपने जॉब पर जाने लगे हैं। धीरे-धीरे कुछ दिनों में पूरी तरह से लॉक डाउन उठ जाएगा। मेट्रो सिटीज से गांव में लोग आना शुरू हो चुके हैं। इन दोनों वजह से पूरे देश में अब कोरोनावायरस फैलने का बहुत ही ज्यादा चांसेस है। तो अभी हमें बहुत ही ज्यादा सावधानी बरतनी पड़ेगी।             अगर ह…

pica in children in Hindi

Pica in children in hindi- बच्चा मीट्टी खाना कैसे छुडाए?
   हमारे ओपीडी में बहुत सारे पेरेंट्स आते हैं। सबकी एक ही कंप्लेंट होती है कि, उनका बच्चा मिट्टी खा रहा है। मिट्टी के साथ-साथ पेंसिल खाता है, कंकड़ खाता है, कलर, बहुत सारी चीजें खाता है।
Read this post in English 

      इसे अंग्रेजी में पिका बोलते हैं। यह आदत छूटनी चाहिए। हमने बहुत सारी औषधियां ट्राई की, बहुत सारे डॉक्टरों को दिखाया, लेकिन मिट्टी खाने की आदत छूट थी ही नहीं।
      इस आर्टिकल में आपको इसकी औषधि  और घरेलू उपाय बताऊंगा। जिससे आपका बच्चा हमेशा के लिए मिट्टी, कंकड़,पेंसिल आदि चीजें खाना छोड़ देगा।
Hangover treatment in hindi 
मीट्टी खाने  के कारण।   यह समस्या लो सोशियो इकोनामिक क्लास low socioeconomic class, यानी गरीबों में ज्यादा पाई जाती है। क्योंकि उनके घर में खाने पीने की चीजें  पर्याप्त मात्रा में नहीं होती।  तो बच्चे का पोषण अच्छी तरह से नहीं हो पाता। इसी वजह से बच्चा मिट्टी कंकड़ खाता है।     अमीरों  के घर में भी यह प्रॉब्लम देखी जाती है।  पर जिन घरों में झगड़े ज्यादा होते हैं, माता-पिता झगड़ते हैं, उनके बच्चे ज…