सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पोस्ट

अप्रैल, 2020 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

कैंसर

कैंसर ट्रीटमेंट - UICC यूआईसीसी यूनियन ऑफ इंटरनेशनल कैंसर कंट्रोल। यह संस्था  पूरे विश्व में कैंसर के जनजागृति, कैंसर के बारे में लोगों में जागृति पैदा करना और इससे कैंसर फैलने में रोकने में काम करती है। कैंसर जल्दी से जल्दी डिटेक्ट हो और कैंसर से होने वाली मौतें कम हो इसीलिए यूआईसीसी प्रयास करती है।

Read this post in English 

    इंडिया में लगभग 22 लाख से ऊपर कैंसर के पेशेंट है।  दुनिया में इसका आकडा करोड़ों से ऊपर है। हर साल 1100000 पेशेंट में कैंसर पाया जाता है। इनमें से एक लाख के ऊपर लोगों की हर साल मौत इंडिया में होती है।

       अब उन सारे कैंसर पेशेंट के लिए बहुत ही बड़ी खुशखबरी है।  कैंसर को पूरी तरह से ठीक करने वाली दवा इसराइल israil में बनाई गई है। यह दवा हर एक प्रकार के कैंसर को ठीक कर देगी। पहले क्या होता था कि फर्स्ट stage में  ही कैंसर केवल ठीक  होता था। लेकिन यह दवाई में इतना असर है कि यह फोर्थ स्टेज का भी कैंसर ठीक कर सकती है।
All about HIV aids

Cancer treatment  18 साल पुरानी इजरायल की कंपनी Accelerated evolutionary biotechnology limited एक्सीलरेटेड इवोल्यूशन बायो टेक्…

Tips to increase height in hindi

How to increase height? हर लड़का लड़की को यह लगता है कि मेरी हाइट ज्यादा होनी चाहिए। मेरी हाइट कम है। मेरे हाइट अगर थोड़ी ज्यादा होती तो कितना अच्छा होता। क्योंकि हाइट बढ़ने से पर्सनैलिटी भी बढ़ती है। कई ऐसे क्षेत्र है जहां पर ज्यादा हाइट होना बहुत ही जरूरी माना जाता है, जैसे कि आर्मी , पुलिस मॉडलिंग, acting.

Read this post in English

     हाइट बढ़ाने के लिए लोग आपको कई तरह के नुस्खे बताएंगे, देसी औषधि भी आपने बहुत सारी कि होंगे, लेकिन हाइट नहीं बढ़ रही है?  हाइट बढ़ाने के लिए साइंटिफिक जानकारी होनी चाहिए और डॉक्टर द्वारा दी गई औषधियां ही आपको लेनी चाहिए। हाइट कितने साल तक बढ़ती है? पहले तो मैं आपको एक इंपोर्टेंट बात बताना चाहता हूंकी लड़कियों की हाइट मैक्सिमम 18 साल तक बढ़ती है। लड़कों की हाइट मैक्सिमम 20 साल तक बढ़ती है। उसके बाद आप कोई भी ट्राई करो कोई भी नुस्खा तरीका ट्राई करो, औषधि  ट्राई करो लेकिन कितने भी प्रयास से 1 इंच  हाइट नहीं बढ़ती।

    बाजार में बहुत सारे सी औषधि  है बहुत सारे यूट्यूब पर वीडियोस, नेट पर ब्लॉग्स आपको मिल जाएंगे, जो लोग उनकी दवाइयों की जहरात ऐसे करते हैं क…

Hyperhidrosis in hindi

Hyperhidrosis- हाथ पैरों में ज्यादा पसीना आता है?  कुछ लोग इसे सर्दी आना भी बोलते हैं। अंग्रेजी में ऐसे हाइपरहाइड्रोसिस कहा जाता है। हाथ पैरों में पसीना आना इंसानों में बहुत ही ज्यादा परेशानी का कारण बन सकता है।  खासकर ऑफिस वर्क करने वाले लोगों में। जिनका लिखने का ही काम होता है। सोचो हाथ में अगर आपके बहुत ही ज्यादा पसीना आया हो, और आप लिख रहे हो तो  आपको कितनी मुश्किलों का सामना करना पड़ता होगा।

Read this post in hindi 

      हाथ पैरों में पसीना आने की वजह से कुछ लोग लोगों से मिलने जुलने में भी कतराते हैं। वह अकेले ही रहने लगते हैं। नॉरमल पर्सन में क्या होता है कि अगर टेंपरेचर बढ़ जाए या फिर व्यायाम के बाद पसीना आता है। लेकिन इन पेशेंट में  ऐसी कोई संभावना नहीं होती। इनमें ज्यादा पसीना आने के लिए टेंपरेचर  हाय होना जरूरी है न  व्यायाम करना जरूरी है। इनको 24 घंटे पसीना आता ही रहता है। उन लोगों को ठंड के सर्दी के मौसम में भी पसीना आता है।

हाथ पैर में पसीना आने के कारण 1 heridatory- हेरिडिटी यानी अनुवांशिक। यह बीमारी दादा से आपके पिताजी को और आपके पिताजी से आपको ऐसा हो सकती है। यह कई फै…

Mobile in hindi

Mobile in hindi - मोबाइल causes cancer कैंसर। 21वीं सदी में मोबाइल का जन्म हुआ। पहले हम मोबाइल कॉल करने के लिए ही इस्तेमाल करते थे। अब हम कॉल के साथ साथ वीडियो कॉल, वीडियो चैटिंग, इंटरनेट और  मूवीस देखने के लिए भी मोबाइल का इस्तेमाल करते हैं। मोबाइल अब हमारा अविभाज्य अंग बना हुआ है। कुछ लोगों को तो मोबाइल के बिना रहा भी नहीं जाता। मोबाइल के जितने फायदे हैं उतने ही नुकसान भी है।

Read this post in English 

      मोबाइल के ज्यादा इस्तेमाल से हमारे शरीर पर बहुत ही बुरा असर पड़ता है। एक स्टडी के मुताबिक  पाया गया है कि मोबाइल रेडिएशन से कैंसर का खतरा बढ़ता है। तो मोबाइल से हमारे शरीर पर क्या क्या साइड इफेक्ट होते हैं अब हम देखेंगे।

1. मोबाइल रेडिएशन-  mobile radiations causes cancer मोबाइल से हमेशा रेडिएशंस निकलते रहते हैं। एक स्टडी के मुताबिक यह पाया गया है कि उन रेडिएशंस की वजह से ब्रेन कैंसर होने का खतरा बढ़ता है।
Covid-19 vaccine 

2. स्लिप डिस्टरबेंस - sleep disturbance इन्हीं मोबाइल के रेडिएशन की वजह से ब्रेन डिस्टर्ब हो जाता है। इंसान का दिमाग पूरी तरह से काम नहीं कर पाता।  इसीलिए रात…

लेप्टोस्पायरोसिस। leptospirosis in hindi

Leptospirosis in hindi - लेप्टोस्पायरोसिस एक बैक्टीरियल बीमारी है।  लेप्टोस्पायरोसिस फैलने वाले बैक्टीरिया का नाम है leptospira। यह बीमारी जहां ज्यादा पानी होता है, दलदल है, वहां पाई जाती है।  खासकर बाढ जब आ जाती है उसके बाद ही फैलती है।
Read this post in English 

        यह बीमारी चूहा गिलहरी आदि जो कतरने वाले जानवर होते हैं उन से फैलती है। जब बाढ़ आती है तब इसका खतरा बहुत ही ज्यादा बढ़ता है। क्योंकि चूहा गिलहरी कुत्ता ऐसे जानवर इस बाढ़ में मर जाते हैं। उनके शरीर में leptospira नाम के बैक्टीरिया होते हैं। यह बैक्टीरिया उनसे पानी और जमीन में फैलते हैं। पानी और जमीन के संपर्क में, इनफेक्टेड जमीन के संपर्क में जो इंसान आते हैं, तब वह इंसानों में फैल जाते हैं।

किसान सब्जियां उगाते हैं, सब्जियां उगाने के लिए उन्हें खेतों में चलना पड़ता है, तब उन सब्जियों के जरिए और शरीर पर हुई जख्म के जरिए वह बैक्टीरिया इंसानों के शरीर में आ जाते है।

Leptospirosis symptoms  Malaria vaccine  बुखार आना,  बुखार के साथ-साथ ठंड भी लगती है।बहुत ही ज्यादा सिर दुखता है। पेट भी दुखता है। पूरा शरीर में पेन होता है…

Conjunctivitis in hindi

Conjunctivitis in hindi - आखिर आना आम बात है। यह बीमारी किसी को भी आ सकती है। इसको गुलाबी आँख  भी कहा जाता है।  यह एपिडेमिक रूप में आती है। epidemic यानी कि अगर यह एक को हो जाए तो वह दूसरों में बहुत ही जल्दी फैलता है।  आपके घर में किसी को कोई बीमारी हो तो घर के बाकी सदस्यों को भी हो सकती है। यह ज्यादातर बच्चों में होती है। लेकिन बुढों में भी हो सकती है,  लेकिन यह कम पाई जाती
है।
Read this post in English 
 बीमारी एक खास सीजन में ही पाई जाती है। इस का सीजन है समर सीजन, यानी गर्मी का मौसम। इंडिया  में गर्मी मार्च से ही शुरू हो गई है, अप्रैल-मई तक यह बीमारी पाई जाती है।  एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में जल्दी ही पहुंच जाती है। इसीलिए conjunctivitis पेशेंट  से दूरी बनाए रखना ही सबसे इंपोर्टेंट है।  Conjunctivitis symptoms  आंख का सफेद भाग जो है वह पूरी तरह से गुलाबी पड़ जाता है। इसीलिए इसे गुलाबी आंख भी कहते हैं। आंख बहुत ही ज्यादा दुखती है। आंखों में जलन होती है। आंखों में खुजली बहुत ज्यादा होती है। आख  का अजू बाजूका एरिया पूरा सूज जाता है। आंख से लगातार पानी आता रहता है। कुछ-कुछ कैसेस मे…

डायबिटीज के लक्षण। diabetes ke lakshan ।

डायबिटीज के लक्षण -डायबिटीज से एक महा भयंकर रोग है। डायबिटीज यानी शुगर। डायबिटीज को साइलेंट किलर भी कहा जाता है। क्योंकि शुगर की बीमारी होने के सालों बाद तक भी बीमारी का पता नहीं चलता। और पता भी कैसे चलता है कि जब आप किसी और कारण से डॉक्टर के पास जाते हो, तब डॉक्टर को अगर लगा कि आपको डायबिटीज होगी, तो वह ब्लड चेक करते हैं।  ब्लड चेक करने पर अचानक से ही पता चलता है कि आपकी शुगर लेवल बढ़ गई है।
Read this post in English

        जब तक आप को पता चलेगा क्या आपकी शुगर लेवल बढ़ गई है , तब तक तो 3 साल बीत जाते हैं। इन सालों में बड़ी हुई शुगर लेवल के कारण आपका हार्ट, किडनी और आंख इन पर बहुत ही बुरा असर पड़ता है। इसीलिए शुगर को जल्दी पहचानना  बहुत ही महत्वपूर्ण है। तो डायबिटीज के लक्षण क्या-क्या है अब हम देखेंगे। डायबिटीज के लक्षण Asthama symptoms and treatment   1. Frequent urination- यूरिनेशन सबसे पहला और महत्वपूर्ण लक्षण है।  पेशाब को बार-बार जाना पड़ता है। हर एक और डेढ़ घंटे के बाद पेशाब को लगती है। खासकर रात में रात में तो चार से पांच बार पिशाप के लिए उठना  ही पड़ता है।

2. Excessive thirst-…

मलेरिया वैक्सीन । malaria vaccine ।

मलेरिया वैैक्सीन - मलेरिया वैक्सीन 25 अप्रैल को वर्ल्ड मलेरिया डे मनाया मनाया जाता है। मलेरिया एक मच्छरों से फैलने वाली बीमारी है। कुछ-कुछ कैसेस में अगर बीमारी बहुत ज्यादा बढ़ जाए तो इसमें जान भी जा सकती है। हर साल पूरे विश्व में 3.30 करोड़ लोगों को इसकी लागत होती है।  लगभग 4.30 लाख लोग इसकी वजह से मर जाते हैं।
Read this post in English 

मलेरिया से होने वाली मौतें कम करना बेहद जरूरी है। इसीलिए मलेरिया ना हो इसके लिए प्रयास करने चाहिए। मच्छरों से बचने के उपाय आप सब लोगों को पता ही है। लेकिन मेडिकल साइंस में मलेरिया ना हो इसके लिए इसके ऊपर वैक्सीन यानी मलेरिया का टीका  की खोज जारी थी।  मलेरिया वैक्सीन यानी मलेरिया का टीका अब जाकर फाइनली शस्त्रज्ञोंने  खोज निकाला हैं। ईसमें सफलता हासिल हुई है, तो जानिए जानते है पूरी न्यूज़ क्या है।

Asthama symptoms and treatment 

Malaria vaccine  मलावी एक अफ्रीकन कंट्री है। इस देश में यह टीका खोज भी निकाला गया और अब यह वहां के बच्चों में देना शुरू भी हो गया है। वर्ल्डस फर्स्ट मलेरिया वैक्सीन जग का पहला मलेरिया का टीका 23 अप्रैल 2019 से मालावि देश में देना…

Heat stroke in hindi। लू लगना।

Heat stroke in hindi - अप्रैल, मई और जून एक गर्मी के महीने होते हैं।  अभी गर्मी का मौसम चल रहा है। पहले हमारे यहाँ  कभी भी टेंपरेचर 39 डिग्री सेल्सियस से ऊपर नहीं जाता था।  लेकिन हाल ही के कुछ सालों में 41 डिग्री सेल्सियस तक जा रहा है। कुछ-कुछ शहरों में तो 48 डिग्री सेल्सियस तक तापमान जाता है।
Read this post in English 

इस भयंकर गर्मी में हिट स्ट्रोक, सनस्ट्रोक, हिंदी में से लू लगना भी कहते हैं। इसका खतरा बहुत ही ज्यादा बढ़ जाता है। हीटस्ट्रोक sun stroke एक मेडिकल इमरजेंसी है। यह जानलेवा भी हो सकती है। आपने पढ़ा होगा कि बहुत सारे लोगों की मौत heat stoke  की वजह से होती है। तो आपके लिए लू लगना, हीट स्ट्रोक के बारे में के लक्षणों के बारे में पूरी तरह से पता होना चाहिए। अगर आप के आस पास ऐसा कोई भी पेशेंट दिखाई दे तो आप उस पर प्रथमोपचार, फर्स्ट ऐड, कर सके ताकि उस पेशेंट की जान बच जाए। लू लगने के लक्षण। symptoms of heat stroke  इसमें  में भी दो प्रकार होते हैं। पहला हीट एग्जॉशन heat exhaustion और दूसरा sunstroke। बाॅडी  का नार्मल टेंपरेचर होता है 37 डिग्री सेल्सियस।  जब यह बढ़कर 38 से 40 ड…

quarantine in hindi । isolation in hindi ।

Quarantine vs isolation- पूरे विश्व में सब का टेंशन बढ़ा रखा है कोरोनाव्हायरस ने। अभी हम सबको पता है कि कोरोनावायरस फैलने से रोकने के लिए हमें क्या-क्या करना चाहिए। इसी बीच वह दो शब्द हर एक के मन में कंफ्यूजन पैदा कर रहे है। वह दो शब्द है,  quarantine and isolation क्वॉरेंटाइन एंड आइसोलेशन। बहुत सारे लोगों को इन दो शब्दों का अर्थ पता है। लेकिन बहुत सारे ऐसे भी लोग हैं उन्हें इन दो शब्दों का अर्थ पता नहीं है। तो आज हमको क्वारंटाईन  और आइसोलेशन के बारे में डिस्कस करेंगे। quarantine vs isolation, क्वारंटाईन और आइसोलेशन में फर्क क्या है यह भी बताएंगे।
Read this post in English 

Quarantine 1. क्वारंटाईन-  quarantine का मतलब है विलिगीकरण।  यानी कि कोविड-19 के सस्पेक्ट केसेस को  नॉर्मल हेल्थी इंडिविजुअल से अलग रखना। क्वॉरेंटाइन किस किसको किया जाता है?  जो लोग विदेश  से आए हैं उन्हें क्वॉरेंटाइन किया जाता है।  जो कोविड-19 के सस्पेक्ट कंफर्म केसेस है, उनके क्लोज कांटेक्ट में जो आते हैं उनको भी क्वॉरेंटाइन किया जाता है। क्लोज कांटेक्ट का मतलब क्या है?   जो कंफर्म कैसेस है कोविड-19 का, उस पेशेंट…