शनिवार, 25 अप्रैल 2020

मोबाईल के साईड इफेक्ट। mobile।

Mobile - मोबाइल causes cancer कैंसर। 21वीं सदी में मोबाइल का जन्म हुआ। पहले हम मोबाइल कॉल करने के लिए ही इस्तेमाल करते थे। अब हम कॉल के साथ साथ वीडियो कॉल, वीडियो चैटिंग, इंटरनेट और  मूवीस देखने के लिए भी मोबाइल का इस्तेमाल करते हैं। मोबाइल अब हमारा अविभाज्य अंग बना हुआ है। कुछ लोगों को तो मोबाइल के बिना रहा भी नहीं जाता। मोबाइल के जितने फायदे हैं उतने ही नुकसान भी है।
      मोबाइल के ज्यादा इस्तेमाल से हमारे शरीर पर बहुत ही बुरा असर पड़ता है। एक स्टडी के मुताबिक  पाया गया है कि मोबाइल रेडिएशन से कैंसर का खतरा बढ़ता है। तो मोबाइल से हमारे शरीर पर क्या क्या साइड इफेक्ट होते हैं अब हम देखेंगे।
1. मोबाइल रेडिएशन-  mobile radiations causes cancer मोबाइल से हमेशा रेडिएशंस निकलते रहते हैं। एक स्टडी के मुताबिक यह पाया गया है कि उन रेडिएशंस की वजह से ब्रेन कैंसर होने का खतरा बढ़ता है।
2. स्लिप डिस्टरबेंस - sleep disturbance इन्हीं मोबाइल के रेडिएशन की वजह से ब्रेन डिस्टर्ब हो जाता है। इंसान का दिमाग पूरी तरह से काम नहीं कर पाता।  इसीलिए रात को नींद भी पूरी नहीं होती। इंसान किसी भी चीज़ में ध्यान यानी  के concentration कंसंट्रेशन नहीं कर पाता। इससे सीखने में परेशानी आती है। इसका सबसे ज्यादा बुरा असर स्टडी करने वालों में यानी कि छात्रों में होता है। 
3. मोबाइल ब्लास्ट-  अक्सर यह न्यूज़ आती है कि किसी के कान में मोबाइल फट गया, किसी के पेंट की जेब में मोबाइल फट गया। एक न्यूज़ ऐसी भी आई थी कि मोबाइल छाती पे रख कर एक लड़का सो गया। सोते वक्त उसने मोबाइल चार्जिंग करते हुए रखा था। और सुबह देखा तो उसकी मौत हो गई थी। मोबाइल ज्यादा हिट होने की वजह से ऐसा होता है। मोबाइल ज्यादा देर तक चार्ज करने से टेंपरेचर बढ़ जाता है। li- ion  बैटरी का explosion हो जाता है।
4. Game addiction- ज्यादा मोबाइल के इस्तेमाल से युवा गेम के एडिक्ट बन जाते हैं। हाल ही में सबसे ज्यादा फेमस गेम है पब्जी Pubg । एक न्यूज़ यही भी आई थी कि एक लड़का इतना पब्जी खेलता था इतना पब्जी खेलता था, कि वह दिन-रात उसी में ही लगा रहता था। इस पब्जी गेम की वजह से उसकी आंख चली गई। उस लड़के ने लगातार 11 घंटे तक पब्जी खेलता रहा, उसके बाद उसे अचानक से देखना बंद हो गया।  उसने डॉक्टर को दिखाया। डॉक्टर ने जांच पड़ताल की तो उन्हें ऐसा पाया गया कि उसके एक आंख की रोशनी चली गई है।
5. Road accidents- कुछ लोग गाड़ी चलाते वक्त मोबाइल का इस्तेमाल करते हैं।  गाड़ी चलाते वक्त मोबाइल पर बोलने से, या चैटिंग करने से एक्सीडेंट बहुत ही ज्यादा बढ़ गए हैं। उसी वजह से कई हजार लोगों को रास्ते पर ही जान गवानी पड़ती है। 
        इसलिए मोबाइल का इस्तेमाल कम से कम करें। सोते समय सिर के पास मोबाइल बिल्कुल ही मत रखें। अपने शरीर से ज्यादा दूरी पर ही मोबाइल रखे। मोबाइल को बहुत ही ज्यादा देर तक चार्ज न करें।  रात भर चार्ज ना करें।
Read more- leptospirosis 
Stay fit stay healthy ।
Side effects of mobile
Mobile side effects

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Comments system

[blogger][disqus][facebook]

Disqus Shortname

sigma-2